गुलदार ने किया हमला तो ‘दुम दबाकर’ भागी पुलिस

10
285

पुलिस टीम पर हमले का प्रयास

उत्तराखंड के औरंगाबाद गांव में ग्रामीणों पर हमला करने के बाद अब धनौरी क्षेत्र में गुलदार का आतंक है। गुलदार ने शनिवार को क्षेत्र में गश्त कर रही पुलिस टीम पर हमले का प्रयास किया। गाड़ी के शीशे बंद होने से गुलदार किसी पुलिसकर्मी पर हमला नहीं कर पाया।

धनौरी चौकी प्रभारी राजेश कुमार का कहना है कि वह शनिवार देर रात एक बजे गश्त करके वापस चौकी जा रहे थे तो चौकी से महज सौ कदम की दूरी पर सड़क के किनारे पड़ा गुलदार एकदम उनकी कार की ओर दौड़ पड़ा।

दौड़ते हुए गुलदार ने उनकी कार पर हमला करने के उद्देश्य से झपटा मारा। लेकिन कार के शीशे बंद होने के कारण वह आक्रमण नहीं कर पाया।

पेट्रोलिंग करने को कहा गया है

उन्होंने बताया कि रविवार को रुड़की के उपखंड अधिकारी को भी गुलदार के पुलिस की गाड़ी पर झपटा मारने की शिकायत से अवगत करा दिया गया है उधर क्षेत्र में गुलदार के सक्रिय होने के बाद वन विभाग को भी क्षेत्र में पेट्रोलिंग करने को कहा गया है।

उधर गांव में ही एक रविवार रात साढे़ आठ बजे गुलदार हैंडपंप के पास पडे़ कुत्ते को अपना निवाला बना दिया।

स्थानीय ग्रामीण सोमपाल, रामनाथ, संजय, गौतम, समर बहादुर ने बताया कि धनौरी सिंचाई विभाग की कालोनी में करीब दो माह से गुलदार का आतंक जारी है। लेकिन वन विभाग की ओर से गुलदार को पकड़ने के इंतजाम नहीं किये जा रहे हैं।

10 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here