ग्रामीणों के तेवर तल्ख, आज से आमरण अनशन

0
241

10_04_2015-10ckhp2-c-2चौखुटिया : सुनवाई न होने से आक्रोशित बरलगांव के ग्रामीणों ने 11 अप्रैल से अनिश्चितकालीन आमरण अनशन शुरू करने का एलान कर दिया है। आंदोलनकारी इसकी व्यापक तैयारी में जुट गए हैं। सिंचाई की समुचित व्यवस्था न होने से गांव की बुजुर्ग भी खासे आहत हैं। इस क्रम में छठवें दिन क्रमिक अनशन में 2 वयोवृद्ध महिलाएं भी शामिल हुई।
ग्राम पंचायत के बरलगांव आह्वान पर ग्रामीणों द्वारा सिंचाई कार्य के लिए स्थाई रूप से पानी उपलब्ध कराने की मांग को लेकर ग्रामीणों द्वारा तीन अप्रैल से सिंचाई विभाग कार्यालय पर क्रमिक अनशन चलाया जा रहा है। सोमवार को आंदोलन स्थल पर हुई सभा में वक्ताओं ने कहा कि आंदोलन को छह दिन बीतने के बावजूद सिंचाई विभाग का कोई अधिकारी वार्ता के लिए नहीं पहुंचा है। ना ही प्रशासन कोई सुध ले रहा है। जो ग्रामीणों की घोर उपेक्षा है।
वक्ताओं ने कहा कि जब तक उनकी जायज मांग मानी नहीं जाती, आंदोलन जारी रहेगा। अनशन में बैठने वालों की सूची तैयार कर ली गई है। पांचवें दिन के क्रमिक अनशनकारियों को जूस पिलाकर उठाने के उपरांत छठवें दिन शरोप सिंह, पदमा देवी व भगवती देवी को माल्यार्पण के साथ क्रमिक अनशन पर बैठाया गया।
इधर ब्लाक प्रमुख बिशन राम, जिपंस शिव कुमार व ज्येष्ठ उपप्रमुख हरीश कैड़ा समेत कई अन्य जन प्रतिनिधियों ने भी अपना समर्थन व्यक्त किया। इस अवसर पर प्रकाश सिंह, खीम सिंह रावत, नारायण सिंह, खीम बिष्ट, हर्ष सिंह, भूपाल सिंह, प्रताप सिंह, हेमा देवी, लीला देवी, दान सिंह, बसंती, कमला व भागुली देवी आदि मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here