चौथे दिन भी नहीं खुला बदरीनाथ मार्ग, चार हजार तीर्थयात्री फंसे

0
347

01_05_2015-landslide01देहरादून। मौसम की दुश्वारियां कम होने का नाम नहीं ले रहीं। खासकर चारधाम यात्रा के मामले में। भूस्खलन के कारण हाथीपहाड़ के पास अवरुद्ध हुआ बदरीनाथ राजमार्ग मंगलवार के बाद से अब तक नहीं खुल पाया है। लगातार भूस्खलन से मलबा हटाने में दिक्कतें आ रही हैं। मंगलवार दोपहर बारिश के दौरान विष्णुप्रयाग के निकट हाथीपहाड़ में भारी भूस्खलन के कारण मार्ग अवरुद्ध हो गया था। बुधवार को मौसम खुलने पर सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) ने मलबा साफ करने का कार्य शुरू किया। तभी दूसरी तरफ मलबा आने से बीआरओ का डोजर बीच में फंस गया और दो कर्मी घायल हो गए। बार-बार मलबा गिरने से काम रोक दिया गया। गुरुवार देर रात तेज आंधी और बारिश की वजह से मुश्किलें और बढ़ गई हैं। शुक्रवार को मौसम साफ हुआ है और मलबा हटाने के काम में तेजी आई है। मार्ग बंद होने से करीब साढ़े तीन हजार यात्री भी बदरीनाथ समेत विभिन्न स्थानों में फंसे हुए हैं। कई लोग पैदल वापस लौट रहे हैं। वहीं, केदारनाथ और गंगोत्री व यमुनोत्री में यात्रा सुचारू रूप से जारी है। केदारनाथ में बुधवार को 729 तीर्थयात्रियों ने दर्शन किए। कपाट खुलने से अब तक 9812 यात्री बाबा केदार के दर्शन कर चुके हैं। गंगोत्री में 1153 और यमुनोत्री धाम 974 यात्री दर्शन को पहुंचे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here