नहीं रहे हीरो साइकिल के संस्थापक

0
313

munjalहीरो ग्रुप के संस्थापक सदस्यों में से एक और हीरो साइकिल के सेवामुक्त अध्यक्ष ओपी मुंजाल का लुधियाना में निधन हो गया है. मुंजाल का पिछले कई दिनों से स्वास्थ्य ठीक नहीं चल रहा था. ओपी मुंजाल के एक बेटे और चार बेटियां हैं. मुंजाल पिछले महीने ही हीरो मोटर ग्रुप के अध्यक्ष पद से हट गए थे और बिजनेस में सक्रिय भूमिका नहीं निभा रहे थे. अब उनके बेटे पंकज मुंजाल ग्रुप के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक हैं.

ओपी मुंजाल ने अपने तीन भाइयों के साथ मिलकर वर्ष 1944 में साइकिल के कल पुर्जे बनाने से अमृतसर में अपने व्यापार की शुरुवात की थी. फिर अमृतसर को छोड़ उन्होंने लुधियाना में अपना व्यापार जमाया और अपनी कंपनी का नाम हीरो रखा. इस कंपनी ने वर्ष 1956 में भारत की पहली साइकिल का निर्माण करने वाली इकाई का गठन किया.

1980 के दौर में हीरो साइकिल दुनिया में सबसे ज्यादा साइकिल की निर्माता कंपनी बन गई. विश्व के सबसे बड़े साइकिल निर्माता के तौर पर 1986 में हीरो साइकिल का नाम गिनिज बुक में भी दर्ज किया गया. करीब 60 साल तक हीरो साइकिल का नेतृत्व करने वाले मुंजाल ने अन्य क्षेत्रों में भी अपना विस्तार किया. उन्होंने आॅटो पार्ट्स के निर्माण, शिक्षण संस्थानों और अस्पताल भी खोले. मुंजाल को पूर्व राष्ट्रपति सर्वपल्ली राधाकृष्णण, वीवी गिरी, ज्ञानी जैल सिंह और डाॅक्टर अब्दुल कलाम ने राष्ट्रीय सम्मान से भी नवाजा था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here