पीएफ पर 8.7% ब्याज के लिए हो जाइए तैयार, ईपीएफओ ने तैयार किया प्रस्ताव

0
145

नई दिल्ली. कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) वित्त वर्ष 2014-15 में 5 करोड़ अंशदाताओं (जो वेतन से पीएफ कटवाते हैं) को पीएफ पर 8.7 फीसदी ब्याज देने पर विचार कर रहा है। यह ब्याज दर पिछले वित्त वर्ष की तुलना में कम है। पिछली बार ईपीएफओ ने पीएफ पर 8.75 फीसदी ब्याज दिया था। चौंकाने वाली बात यह है कि ईपीएफओ का मानना है कि इस साल भविष्य निधि पर 8.8 फीसदी ब्याज दिया जा सकता है, लेकिन संगठन पिछले साल से भी कम ब्याज देने का प्रस्ताव तैयार कर चुका है। आज ईपीएफओ की बैठक है।

ईपीएफओ के आकलन के मुताबिक चालू वित्त वर्ष में ब्याज से कुल कमाई 29,000 करोड़ से थोड़ी कम होगी और 8.8 फीसदी ब्याज देने पर संगठन के पास बहुत कम फंड बचेगा। ईपीएफओ का आकलन है कि 5 बेसिस प्वॉइंट में बढ़ोतरी से संगठन पर 165 करोड़ का अतिरिक्त बोझ पड़ता है। 100 बेसिस प्वॉइंट्स एक फीसदी प्वॉइंट के बराबर होता है।

लेकिन पीएफ अंशदाताओं के लिए ज्यादा ब्याज की उम्मीद खत्म नहीं हुई है। बताया जा रहा है कि ईपीएफओ के प्रस्ताव से बोर्ड के ट्रस्टी संतुष्ट नहीं हैं। बोर्ड में शामिल केंद्र सरकार के प्रतिनिधियों का कहना है कि अगर आकलन सही हैं तो ब्याज 8.8 फीसदी से ज्यादा मिलना चाहिए। संभावना इस बात की भी है कि ब्याज तय करने को लेकर फैसला जनवरी-मार्च की तिमाही तक टाल दिया जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here