पुणे भूस्खलन : मरने वालों की संख्या 87 हुई, आसपास के गांवों पर भी खतरे की आशंका

3
190

पुणे: पुणे के पास मालिण गांव में हुए भूस्खलन आपदा में पांच और शवों की बरामदगी के बाद अब हादसे में मरने वालों की संख्या बढ़कर 87 हो गई है, जबकि अब भी वहां मलबे में 100 से ज्यादा लोगों के फंसे होने की आशंका है।

जो इस हादसे में बाल-बाल बचे हैं, उनके मन में ऐसा खौफ है कि वे अब वापस गांव नहीं लौटना चाहते। जानकारों के मुताबिक इनका डर बेवजह नहीं है, क्योंकि पहाड़ों को समतल करने के लिए भारी मशीनों के इस्तेमाल की वजह से आसपास के 15 और गांवों पर इस तरह के हादसे का खतरा मंडरा रहा है।

जिला नियंत्रण कक्ष ने रविवार को बताया कि मरने वालों में 33 पुरुष, 42 महिलाएं और 12 बच्चे हैं। उन्होंने बताया कि बचाव अभियान के दौरान मौसम की प्रतिकूल परिस्थितियों के कारण भारी मशीनरी से मलबा हटाने के काम में बाधा हो रही है।

हालांकि 30 जुलाई को हुए हादसे के बाद आज पांचवें दिन भी राष्ट्रीय आपदा कार्रवाई बल के कर्मी भारी मलबे को हटाने के काम में जुटे हैं। राज्य के गृह मंत्री आरआर पाटिल ने शनिवार शाम घटनास्थल का दौरा किया और प्रभावित परिवारों के पुनर्वास का आश्वासन दिया। सरकार ने मृतकों के परिजनों के लिए पांच-पांच लाख रुपये की मुआवजा राशि की घोषणा की है।

3 COMMENTS

  1. I?¦m no longer certain the place you’re getting your information, but great topic. I needs to spend some time learning much more or understanding more. Thanks for great info I used to be on the lookout for this information for my mission.

  2. Excellent blog here! Also your website a lot up fast! What web host are you using? Can I am getting your associate hyperlink on your host? I want my website loaded up as fast as yours lol

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here