क्रिकेट प्रेमियों के लिए बुरी खबर, भारत-पाक मैच पर संकट!

0
176

ind vs pakदुनिया के सबसे खूबसूरत स्टेडियमों में शुमार अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम धर्मशाला में 19 मार्च को भारत और पाक के बीच होने वाले टी- 20 वर्ल्ड कप के मैच पर सियासी संकट के बादल छा गए हैं। आपको बता दें कि पाक क्रिकेट बोर्ड के चीफ शहरयार के बयान के बाद क्रिकेट लॉबी में अफवाहें तेज हो गई है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार पीसीबी चीफ शहरयार ने आईसीसी से कहा कि उनकी टीम के खेलने का फैसला पाक सरकार करेगी।

उन्होंने कहा कि सरकार से सिक्योरिटी क्लीयरेंस मिलने के बाद ही पाक टीम खेलेगी। अगर पाक सरकार ने क्लीयरेंस नहीं दी तो धर्मशाला में 19 मार्च को पाकिस्तान के साथ मैच नहीं होगा। सूत्रों के अनुसार पाकिस्तान अब अपनों के नामों पर परदा डालने के बाद क्रिकेट का सहारा ले रहा है। दरअसल, 26-11 हमले के आरोपी डेविड हेडली ने अमेरिका में गवाही देकर पाकिस्तान की पोल खोल दी है। पूरी दुनिया में पाक सरकार की बदनामी हो रही है। अपने इन्हीं कारनामों को छुपाने के लिए अब पाक सरकार इस तरह के सियासी पैंतरे अपना रही है।

अगर धर्मशाला में भारत और पाक के बीच मैच होता है तो दोनों देशों के बीच सौहार्द रिश्तों की नई शुरूआत हो सकती है। क्योंकि, इस मैच को मोदी और नवाज शरीफ भी देखने आ सकते हैं। वहीं, दूसरी ओर पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के इस सियासी पैंतरे के बाद धर्मशाला में भारत और पाक के बीच मैच नहीं होता है तो यह एचपीसीए अध्यक्ष एवं बीसीसीआई सचिव अनुराग ठाकुर के लिए बड़े झटके से कम नहीं होगा।

अब भारत-पाक का प्रस्तावित वेन्यू शुरू से ही धर्मशाला लगातार सियासी उलझनों में घिरता नजर आ रहा है। आपको बता दें कि सबसे पहले भाजपा के वरिष्ठ नेता शांता कुमार ने शहादत से जोड़कर धर्मशाला में इस क्रिकेट मैच का विरोध किया। इसके बाद हिमाचल के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने बताया था कि धर्मशाला में भारत- पाक मैच नहीं होना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here