चार धाम यात्रा व्यवस्था के दावों को मुंह चिढ़ाता गंगोरी का टूटा पुल

0
164
नीरज उत्तराखंडी

चारधाम यात्रा अभी शुरू भी नहीं हुई है और मुख्य मार्गों की पोल-पट्टी खुलने लगी है। कल सुबह गंगोत्री धाम जाने के इकलौते मार्ग पर  गंगोरी पुल टूट गया।
प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, सुबह एक लोड ट्रक गंगोरी पुल से गुजर रहा था , इसी दौरान एक भयानक आवाज के साथ पुल भर-भराकर टूट गया। हालांकि इस घटना में किसी के हताहत होने की खबर नहीं है, लेकिन ट्रक बीच में फंस गया।
बता दें कि इस पुल के टूटने की यह पहली घटना नहीं है। 2013 की आपदा में यह पुल बह गया था। इसके बाद बीआरओ की टीम ने यहां पर वैली पुल का निर्माण किया। लेकिन, 13 दिसंबर 2017 को एक बार फिर पुल टूटा था उस वक्त एक बार फिर बीआरओ की टीम ने 48 घंटे के भीतर इस पुल को फिर खड़ा किया। लेकिन चारधाम यात्रा से ऐन पहले इस पुल का टूटना सुरक्षा और सरकारी कार्यप्रणाली पर प्रश्न उठाता है। यहां ये बताते चलें की गंगोत्री धाम जाने का यह पुल इकलौता मार्ग है। ऐसे में इस पुल की इतने कमजोर होने से जिला प्रशासन और बीआरओ के कार्य पर प्रश्न उठना स्वाभाविक है।
असी गंगा पर स्थित इस पुल के टूटने से करीब 150 गांवों का संपर्क टूट गया है। कोई भी इमरजेंसी या अस्पताल तक पहुंचने के लिए यह इकलौता मार्ग है।

मुस्तैद हैं जिलाधिकारी

उत्तरकाशी जिले के जिलाधिकारी डाॅ0 आशीष चैहान ने धरासू -गंगोत्री राष्ट्रीय  राजमार्ग पर गंगोरी में वैलीब्रिज क्षतिग्रस्त होने से बीआरओ द्वारा वैकल्पिक मोटर मार्ग तैयार करवाने तथा स्वयं मौके पर रहकर यातायात सुचारू करने के बाद जिला मुख्यालय पहुंचकर पुलिस  अध्ीक्षक, बीआरओ कमाण्डर तथा अपर जिलाधिकारी सहित सम्बंधित  अधिकारीयों  के साथ आवश्यक बैठक ली। जिलाधिकारी ने चारधम यात्रा को सुरक्षित एवं सुव्यवस्थित बनाने के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिया। उन्होने कहा की नागरिकों को किसी प्रकार की दिक्कत न हो ये उनकी प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि मई प्रथम सप्ताह से पहले तीनवे वाले मजबूत वैलीब्रिज बनकर तैयार किया जायेगा। साथ ही कहा कि स्थाई मोटर पुल की टेंडर प्रक्रिया गतिमान है। जिलाधिकारी ने क्षतिग्रस्त पुल पर जांच कमेटी गठित की। कमेटी से पुल क्षतिग्रस्त होने के कारण तथा अन्य रिपोर्ट सात दिन के भीतर देने के निर्देश दिए।

गंगोरी पुल को लेकर कांग्रेस का प्रदर्शन

आज गंगोरी पुल की जांच की मांग को लेकर कांग्रेस के पूर्व विधायक विजय पाल सजवाण के नेतृत्व में प्रदर्शन किया गया। प्रदर्शन के दौरान बस अड्डे पर केन्द्र सरकार का पुतला फूंक कर कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा गंगोत्री  राष्ट्रीय राजमार्ग पर लम्बा जाम लगा दिया । प्रदर्शन के दौरान विधायक और पूर्व विधायक की कहा सुनी भी हुई।