उत्तराखंड में मौसम ने बदली करवट, चारधाम में हुई बर्फबारी; स्‍कूलों में की गई छुट्टी

0
99

देहरादून। उत्तराखंड में मौसम का मिजाज एक बार फिर बदल गया है। चार धाम में रुक-रुककर बर्फबारी हो रही है, वहीं निचले स्थानों में बारिश का दौर शुरू हो गया है। मौसम विभाग के अनुसार मंगलवार को मौसम का मिजाज और खराब हो सकता है। मौसम की चेतावनी के मद्देनजर जिला प्रशासन ने देहरादून, हरिद्वार और टिहरी के स्कूलों में अवकाश घोषित कर दिया है।

सोमवार शाम को देहरादून, हरिद्वार, मसूरी और पौड़ी में बारिश शुरू हो गई। वहीं चारों धाम में हिमपात हो रहा है। केदारनाथ में सुबह से करीब एक फीट बर्फ गिर चुकी है। बर्फबारी के कारण पुनर्निर्माण कार्य भी प्रभावित हुए हैं। वहां मौजूद करीब चार सौ श्रमिक दिन भर अपने टेंटों में ही कैद रहे। उत्तरकाशी की हर्षिल घाटी और दयारा बुग्याल में भी बर्फ पडऩी शुरू हो गई है। इस बीच पहाड़ से लेकर मैदान तक के शहरों में पारे में उछाल आया है। देहरादून में न्यूनतम तापमान 10.1 तो अल्मोडा़ में भी यह 3.5 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। मौसम विभाग के अनुसार न्यूनतम तापमान में चार से पांच डिग्री सेल्सियस का इजाफा हुआ।

राज्य मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार मंगलवार को उत्तरकाशी, चमोली, रुद्रप्रयाग और पिथौरागढ़ में भारी बर्फबारी के आसार हैं। इसके अलावा देहरादून, हरिद्वार, पौड़ी, नैनीताल और ऊधमसिंहनगर में बारिश के साथ ओले भी गिर सकते हैं। मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि प्रदेश में पश्चिमी विक्षोभ (वेस्टर्न डिस्टर्बेंस) है। यह स्थिति करीब एक सप्ताह तक बनी रह सकती है।  कुमाऊं में भी मौसम का मिजाज बदल रहा है। तराई व भाबर में सायं से मौसम ने जोरदार करवट ली। नैनीताल में मौसम के मिजाज को देखते हुए बर्फबारी की संभावना बलवती हो गई है।

हरिद्वार में स्‍कूलों में की गई छुट्टी

मौसम विज्ञान विभाग की ओर से मंगलवार को खराब मौसम और ओलावृष्टि की चेतावनी को देखते हुए हरिद्वार के जिलाधिकारी दीपक रावत ने 22 जनवरी को कक्षा एक से 12 तक के जिले के सभी सरकारी और निजी स्कूलों और आंगनबाड़ी केंद्रों में अवकाश घोषित कर दिया है। आदेश का कड़ाई से पालन करने का निर्देश भी जिलाधिकारी ने देते हुए भारी ओलावृष्टि की स्थिति में लोगों से घरों, कार्यालयों में ही रहने की अपील भी की है।