दिल्ली में बढ़ा कत्ल का आंकड़ा, बीते साल छोटी-छोटी बातों पर हुए मर्डर

0
185

दिल्ली पुलिस की लाख कोशिशों के बावजूद भी राजधानी में कत्ल के मामलों में तेजी से इजाफा हुआ है. दिल्ली पुलिस के सालाना आंकड़ों पर गौर करें, तो हर दो दिन में औसतन तीन लोगों को किसी न किसी कारण मौत के घाट उतार दिया जाता है. कई मामलों में तो बेहद छोटी-छोटी बात पर लोगों की हत्या कर दी गई.

राजधानी दिल्ली में वर्ष 2017 के दौरान 462 कत्ल के मामले सामने आए थे. जबकि इसके मुकाबले 2018 में 477 लोगों की हत्या कर दी गई. इनमें सबसे अधिक 38 फीसदी लोगों को किसी न किसी रंजिश की वजह से मौत के घाट उतार दिया गया. हालांकि हत्या के 86.16 मामलों को दिल्ली पुलिस सुलझाने का दावा कर रही है.

हत्या में इस्तेमाल हथियार की बात करें तो 43 फीसदी लोगों की धारदार हथियार से हत्या की गई, जबकि 19 फीसदी मामलों में गोली मारकर लोगों को मौत के घाट उतारा गया. हत्या के कारणों की बात करें तो बेहद छोटी-छोटी बातों में कुछ लोगों की हत्या कर दी गई.

6 अक्तूबर 2018 को उत्तम नगर इलाके में कुत्ते से टेंपो टकराने पर कुछ युवकों ने टेंपो चालक विजेंद्र की चाकू और पेचकस मारकर हत्या कर दी थी. वही शराब न देने पर 11 नवंबर 2018 को बाबा हरिदास नगर में हत्या और गली में शोर मचाने पर 30 अगस्त को मंगोलपुरी में युवक की हत्या कर दी गई थी. हत्या के इन मामलों में लाख प्रयासों के बाद भी पुलिस 14 फीसदी मामलों को भी सुलझा नहीं पाई.

हालांकि दिल्ली पुलिस के अधिकारी अपनी सफाई में कहते हैं कि वारदातों में हथियारों के इस्तेमाल को रोकने के लिए इस साल 1540 मामले दर्ज कर 1901 लोगों गिरफ्तार किया गया है. जिनके पास से कुल 1905 पिस्टल और तमंचे आदि बरामद किए गए हैं.

जिन लोगों को बीते साल कत्ल किया गया. उनकी हत्या के पीछे कई कारण निकलकर सामने आए. जिनके मुताबिक निम्न कारणों से साल 2018 में हत्या की वारदातों को अंजाम दिया गया-

अपराध के दौरान हत्या 11 (फीसदी)

अचानक गुस्से में हत्या 21

टशन दिखाने में हत्या 11

रंजिश में हत्या 38

अन्य वजह 19

साल 2018 में कत्ल की जो वारदातें सामने आईं, उनमें कई तरह के हथियारों का इस्तेमाल किया गया. जिनमें हत्या के लिए कातिलों ने ज्यादातर तेज हथियारों का इस्तेमाल किया-

धारदार हथियार से हत्या 43 (फीसदी)

गोली मारकर हत्या 19

गला घोंटकर हत्या 14

ज्वलनशील पदार्थ डालकर हत्या 1.2

किसी भारी वस्तु से वारकर हत्या 16

अन्य हथियार 5

मीठे ड्रिंक्स से बढ़ता कैंसर का जोखिम

फ्रांस में हुई एक स्टडी में पाया गया है कि जो लोग चीनी घुली ड्रिंक ज्यादा पीते हैं उनमें कैंसर होने की आशंका अधिक...

उत्तराखंड : नदी में गिरी कार , तीन लोगों की मौत

उत्तराखंड के मुनस्यारी थाना क्षेत्र स्थित मदकोट में सोमवार देर रात एक कार अचानक अनियंत्रित होकर गोरी नदी में जा गिरी। हादसे में कार...

HOUSE DESIGN

हाईकोर्ट का आदेश से बौखलाए बिल्डर

देहरादून |प्रदेश में नदियों के किनारे दो सौ मीटर दूरी तक निर्माण पर रोक के हाईकोर्ट का आदेश से बिल्डर, भूमाफिया बौखलाए हुए हैं। कोर्ट...

[td_block_social_counter custom_title=”STAY CONNECTED” facebook=”tagDiv” twitter=”envato” youtube=”envato”]

MAKE IT MODERN

LATEST REVIEWS

PERFORMANCE TRAINING

इन 5 टेस्टी छाछ को पीकर गर्मी को कहे बाय-बाय!

छाछ पीना गर्मियों में बहुत ही फायदेमंद होता है क्योंकि एक गिलास छाछ पीने से गर्मी अौर पेट की अनेक प्रकार की बीमारियां झट...

बाडअणुवा गांव में नहीं हुए बाढ़ सुरक्षा कार्य

नई टिहरी। बाढ़ प्रभावित बाडअणुवा गांव की व्यवस्थाओं में कोई सुधार नहीं हो पाया है। बरसात शुरू होते ही आरगढ़ गदेरे में पानी बढ़...

पूर्व सीएम एचएन बहुगुणा का संग्रहालय अगले वर्ष तक होगा तैयार

पौड़ी गढ़वाल।  श्रीनगर गढ़वाल से 15 किलोमीटर दूर यूपी के पूर्व सीएम एचएन बहुगुणा के गांव बुघाणी में उनके पैतृक घर को संग्रहालय में बदलने...

Google AdSense के माध्यम से न्यूज़ वेबसाइट से कमाएं पैंसे

Google AdSense के माध्यम से न्यूज़ वेबसाइट से कमाएं पैंसे Google ले के आया है ऑनलाइन माध्यम से पैसे कमाने का आसान तरीका। Google AdSense...

कैबिनेट आज ले सकती है फैसला, 500-1000 के पुराने नोट रखने पर लगेगा जुर्माना!

बैंक में पुराने नोट जमा करने के लिए दो दिन बचे हैं। अगर आपने अब तक पांच और हजार रुपए के पुराने नोटों को...

HOLIDAY RECIPES

बर्फबारी बनी लोगों के लिए मुसीबत, जिलों के सीमा विवाद में...

देहरादून। पोखरी-रुद्रप्रयाग मोटर मार्ग एक हफ्ते से बंद पड़ा है। दो डिविजनों की सीमा मोहनखाल-ताली गदेरे से घिमतोली तक चार फिट तक बर्फ अभी तक...

WRC RACING

HEALTH & FITNESS

BUSINESS