एकल नायक के रूप में स्वीकारे जाने से खुश हूं: नवाजुद्दीन 

0
116

nawazuddinsiddiqueअभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दीकी इस बात से खुश हैं कि उनकी हालिया फिल्म ‘मांझी: द माउंटेन मैन’ की सफलता के साथ दर्शकों ने अंतत: उन्हें एकल अभिनेता के तौर पर स्वीकार कर लिया है। यह फिल्म बिहार के गहलौर गांव के एक गरीब मजदूर दशरथ मांझी के जीवन पर आधारित है। मांझी ने अपनी पत्नी की याद में सिर्फ एक हथौड़ी और छेनी की मदद से एक पहाड़ से रास्ता निकाल दिया था। हालांकि यह फिल्म अपनी रिलीज से कुछ दिन पहले ही इंटरनेट पर लीक हो गई थी लेकिन नवाज का कहना है कि लोग तब भी इसे देखने के लिए सिनेमाघरों में पहुंचे।

नवाजुद्दीन ने बताया, ‘‘फिल्म में प्रमुख भूमिका मिलने पर बहुत अच्छा लगता है। लेकिन हमारे फिल्म उद्योग में यह माना जाता है कि आपकी एकल फिल्मों को बॉक्स ऑफिस पर भी अच्छा प्रदर्शन करना ही चाहिए। फिल्म लीक हो गई थी, सीडी भी बिक कई थीं और तब भी फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर अच्छी कमाई की।’’ उन्होंने कहा, ‘‘पांच-छह राज्यों में इसे कर मुक्त भी घोषित कर दिया गया था। इसलिए हमें बहुत लाभ मिला। लोगों द्वारा एकल नायक के रूप में स्वीकार किया जाना एक अच्छा अनुभव है।’’ नवाजुद्दीन की आगामी फिल्मों में शाहरूख खान अभिनीत ‘रईस’ और श्लोक शर्मा की ‘हरामखोर’ है। इस फिल्म में वह ‘मसान’ की अभिनेत्री श्वेता त्रिपाठी के साथ हैं। यह शिक्षक और छात्रा के बीच की प्रेम कहानी है।

‘रईस’ में नवाजुद्दीन पहली बार शाहरूख के साथ काम कर रहे हैं। इससे पहले वह आमिर खान और सलमान खान के साथ काम कर चुके हैं। नवाजुद्दीन ने शाहरूख की तारीफ करते हुए कहा, ‘‘पहला शेड्यूल पूरा हो चुका है। मैंने शाहरूख के साथ शूटिंग की और उनके साथ काम करना मजेदार अनुभव रहा। मुझे उनके साथ शूटिंग करके वाकई बहुत मजा आया।’’ जब उनसे इन खबरों के बारे में पूछा गया कि फिल्म में पाकिस्तानी अभिनेत्री माहिरा खान के पति की भूमिका में ग्रे शेड हैं तो उन्होंने कहा, ‘‘मैंने ऐसा कुछ नहीं सुना। मैं इसमें एक पुलिसकर्मी की भूमिका में हूं। मैं फिल्म के बारे में ज्यादा कुछ नहीं बता सकता।’’ ‘हरामखोर’ एक शिक्षक (नवाजुद्दीन) और उनकी छात्रा (श्वेता) के बीच के रिश्ते की एक संवेदनशील कहानी कहती है। यह फिल्म श्लोक के जीवन की एक घटना पर आधारित है। नवाजुद्दीन ने कहा, ‘‘यह फिल्म सच्ची घटना पर आधारित है। श्लोक की इस कहानी पर गहरी पकड़ है, किस तरह शिक्षक और छात्र बर्ताव करते हैं..क्योंकि यह घटना उनके जीवन में हुई है। उन्होंने ऐसा कुछ होते देखा है और मैं बहुत खुश हूं कि मैं इसे पर्दे पर लेकर आ रहा हूं।’’

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here