प्रधान ठेकेदार और व्यापारी ने बना डाले बीपीएल कार्ड, एसडीएम ने दिये जांच कर कार्ड निरस्त करने के निर्देश

0
14

उपजिला अधिकारी का जनहित में किया गया एक और प्रशंसनीय कार्य

नीरज उत्तराखंडी

गरीबों का हक छीन कर जो कई वर्षों से बीपीएल और अन्त्योदय के कार्ड बनाकर बीपीएल योजना की मलाई चाट रहे थे उनके के सपनों पर प्रशासन ने पानी फेर दिया।उपजिला अधिकारी ने ऐसे लोगों की जांच कर उनके कार्ड निरस्त करने तथा पात्रों को बीपीएल योजना का लाभ दिये जाने के निर्देश संबंधित अधिकारी को दिये है।
बीपीएल एवं अंत्तोदय का लाभ ले रहे आपत्रो की अब खैर नही है। स्थानीय प्रशासन ने इनके खिलाफ कार्रवाई करनी शुरू कर दी है। एसडीएम पूरण सिंह राणा ने राजस्व उप निरीक्षको एवं ग्राम विकास अधिकारियों को दो सफ्ताह के अंदर अपात्रो को हटाने व पात्रों का चयन करने के निर्देश दिए है।
तहसील सभागार में आयोजित ग्राम विकास अधिकारियों एवं राजस्व उप निरीक्षको की बैठक में उप जिलाधिकारी पूरण सिंह राणा ने बताया कि क्षेत्र में अधिकांश प्रभावशाली लोग अंत्तोदय एवं बीपीएल धारक बने हुए है उन्होंने इसकी सूची बनाने के निर्देश देकर दो सफ्ताह के अंदर इनको हटाने व पात्रों का चयन करने को कहा। बैठक में 150लोग अपात्र पाए गए। इनमें कुछ ग्राम प्रधान व्यापारी एवं ठेकेदार भी शामिल है। नगर पंचायत के खाबलीसेरा वार्ड में 29 तथा पुरोला गाँव में 22लोग अपात्र पाए गए जो वर्षों से बीपीएल एवं अंत्तोदय का लाभ ले रहे है। उपजिलाअधिकारी ने ग्राम विकास अधिकारियों को चेतावनी दी है कि भविष्य में अपात्रो का चयन करने पर उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। इस अवसर पर तहसीलदार माधोराम शर्मा ,सहायक खंड विकास अधिकारी, एसडीओ पंचायत ,नायब तहसीलदार आदि मौजूद थे।