आधार कार्ड बनाने में सामने आई बड़ी लापरवाही, एक गांव के चार सौ लोगों की जन्मतिथि एक

0
113

हरिद्वार। सरकारी विभाग की आधार कार्ड बनाने में बड़ी लापरवाही सामने आई है। हरिद्वार में आधार कार्ड बनाने के मामले में बड़ी लापरवाही उजागर हुई। कार्ड में एक क्षेत्र के करीब चार सौ लोगों की जन्मतिथि एक कर दी गई। परिवार के सभी सदस्यों की जन्म तिथि भी एक है।  आधार कार्ड में बच्चों और माता-पिता की जन्मतिथि एक दर्शाई गई है। ऐसे करीब चार सौ लोगों के आधार कार्ड में लापरवाही की गई है। इससे प्रशासन में भी हड़कंप मचा है। केंद्र सरकार की महत्वाकांक्षी योजना आधार कार्ड को सरकारी विभाग के अधिकारी और कर्मचारी ही पलीता लगा रहे हैं। एक और केंद्र सरकार हर चीज को आधार से लिंक करने की बात कह रही है, वही अधिकारियों की लापरवाही के कारण कई परिवारों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। ताजा मामला बहादराबाद ब्लॉक के गुर्जर बस्ती का सामने आया। आधार कार्ड में पूरे परिवार की जन्मतिथि एक दर्शाई गई है। सात साल के बच्चे और 70 साल के दादा के साथ परिवार के सभी सदस्यों की जन्मतिथि एक जनवरी अंकित की गई है। गुर्जर बस्ती निवासी वजीर चोपड़ा, जहांगीर ने बताया कि करीब दो वर्ष पहले प्राथमिक विद्यालय में आधार कार्ड बनाने का कैंप लगा था। उस समय पूरे परिवार के साथ कार्ड बनवाने गए थे। बताया कि जिन्होंने उस समय कैंप में आधार कार्ड बनाया। कैंप में तैनात कार्मिकों की लापरवाही से पूरे परिवार की जन्मतिथि एक जनवरी अंकित की गई है। बताया कि अब हर जगह आधार कार्ड जी आवश्यकता पड़ रही है, लेकिन सही जन्मतिथि नही होने से उन्हें सरकारी योजनाओं का लाभ नही मिल पा रहा है। बताया कि गुर्जर बस्ती में ही करीब चार सौ लोगो के आधार कार्ड में जन्मतिथि एक जनवरी अंकित की गई है। उन्होंने अधिकारियों से जल्द से जल्द आधार कार्ड में सही जन्मतिथि अंकित करने की मांग की है। मोहम्मद सफी ओर मुमताज अली ने बताया कि हम लोग पढ़े लिखे नहीं हैं। हमे कई दिन बाद पता चला कि जन्मतिथि गलत अंकित हो रखो है। वहीं एसडीएम मनीष कुमार ने बताया कि मामले की जांच की जाएगी। दोशी पाए जाने पर उचित कार्रवाई की जाएगी। यह सभी आधार कार्ड अमान्य हो गए हैं। इन्हें दोबारा से बनवाने को कहा जा रहा है इसके लिए विशेष कैंप आयोजित करने की व्यवस्था की जा रही है।