प्रोडक्‍ट में गौमूत्र के इस्‍तेमाल को कभी नहीं छिपाया: आचार्य बालकृष्‍ण

0
1146

patanjali-PRODUCTहरिद्वार पतंजलि के उत्‍पादों के खिलाफ जारी फतवे पर आचार्य बालकृष्‍ण ने बयान जारी किया है उन्‍होंने बताया कि इस तरह के फतवे जारी करने वाले लोगों में ज्ञान की कमी है। उन्‍होंने कहा कि पतंजलि ने कभी यह सूचना नहीं छिपाई है कि उसके किन उत्‍पादों में गौमूत्र का इस्‍तेमाल होता है आचार्य ने बताया कि पतंजलि 800 से ज्‍यादा उत्‍पाद बनाता है जिनमें से केवल पांच में ही गौमूत्र का इस्‍तेमाल किया जाता है और उनका उत्‍पाद पर उल्‍लेख भी किया जाता है। 

गौरतलब है कि योग गुरु रामदेव की संस्‍था पतंजलि में बने उत्‍पादों के खिलाफ तमिलनाडु के एक मुस्लिम संगठन ने फतवा जारी किया है फतवे में कहा गया है कि गाय के मूत्र से बने उत्‍पादों का इस्‍तेमाल इस्‍लाम में हराम है

तमिलनाडु थोवीड जमात (टीएनटीजे) की ओर से जारी फतवा में कहा गया है, बाजार और ऑनलाइन बिकने वाले पतंजलि की कई दवाइयों, और खाद्य उत्पादों में गाय के मूत्र का प्रयोग किया जाता है गाय के मूत्र का इस्‍तेमाल इस्‍लाम में हराम माना जाता है इसलिए पतंजलि के उत्पाद हराम हैं। टीएनटीजे ने मुस्‍लिमों से अपील की है कि वे तत्‍काल पतंजलि के उन उत्‍पादों का इस्‍तेमाल बंद कर दें जिसमें गाय के मूत्र का प्रयोग किया गया है

मालूम हो कि पतंजलि के आटा नूडल्स में कीड़ा मिलने और देशी घी में फफूंदी लगने के भी आरोप लग चुके हैं इन शिकायतों के बाद हरियाणा, उत्‍तराखंड और हिमाचल प्रदेश में पतंजलि के सामानों के कई जगह से सैंपल लिए गए हैं हालांकि रामदेव लगातार कहते रहे हैं कि पतंजलि के सामान पूरी तरह से स्‍वदेशी और सुरक्षित हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here