नहर का किनारा

0
234

haridwarहरिद्वार। श्यामपुर क्षेत्र के कांगड़ी गांव के पास गाजीवाला में पश्चिमी उत्तर प्रदेश को गंगा का पानी पहुंचाने वाली गंगनहर का किनारा टूट बुधवार को अचानक टूट गया। इससे गाजीवाला और श्यामपुर गांव में बाढ़ के हालात पैदा हो गए हैं। नहर टूटने से गांवों की कई बीघा फसलों को काफी नुकसान पहुचा है। हालांकि अभी नहर टूटन के कारणों का स्पष्ट कारण मालूम नहीं चल सका है। गांव में खतरे को देखते हुए प्रशासनिक अमला भी सक्रिय हो गया है। 
कांगड़ी गांव के उप प्रधान सोमपाल ने बताया बुधवार सुबह करीब 11 बजे नहर का पानी गांव में घुस गया। इसके बाद नहर के टूटने की खबर मिलते ही गांव में हड़कंप मच गया। खौफजदा लोग जल्दी-जल्दी अपना सामान अन्य स्थान पर ले जाने लगे। वहीं गंगा का पानी तेजी के साथ लोगों के घरों समेत बैंकों में घुस गया। 
हालांकि अभी नहर टूटने का पूरा कारण पता नहीं लग पाया है। मगर कयास लगाए जा रहे हैं कि न हर में मवेशियों को पानी पिलाने वाले लोगों ने अपनी सुविधा के लिए नहर के किनारें लगी टाइल्स उखाड़ दी। इससे मवेशियों को पानी पिलाने में आसानी हो। संभवत: इसी के चलते नहर का कटाव हो गया और नहर टूट गई। अब बाढ़ के हालात बनने से दोनों गांवों की करीब आठ हजार की आबादी खतरे की जद में आ गई है। वहीं पानी के तेज बाहर से कुल कितना नुकसान हुआ है, इसका आंकलन नहीं हो सका है।
वहीं दूसरी ओर प्रशासनिक अमला मौके पर जुटा हुआ है। सिंचाई विभाग की मदद से नहर के किनारों को दुरूस्त किया जा रहा है। क्षेत्रीय विधायक स्वामी यतीश्वरानंद ने समर्थकों संग दोनों गांवों कर दौरा किया और प्रभावित ग्रामीणों को हिम्मत दिलाई। उन्होंने जिला प्रशासन से राहत कार्यों में तेजी लाने और प्रभावित ग्रामीणों को मुआवजा दिलाने की मांग भी की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here