6.3 C
New York
Monday, April 22, 2024
spot_img

सामाजिक राजनीतिक संगठनों के कार्यकर्ताओं के प्रतिनिधिमंडल ने कर्फ्यू ग्रस्त इलाके का दौरा किया

स्थानीय प्रशासन से वार्ता कर प्रभावित इलाके में पका भोजन उपलब्ध कराने की मांग

दिन के कर्फ्यू में और ढील देने की मांग

हल्द्वानी। सामाजिक राजनीतिक संगठनों के कार्यकर्ताओं एवं बुद्धिजीवियों के एक प्रतिनिधिमंडल ने प्रशासन के साथ वनभूलपुरा के कर्फ्यूग्रस्त क्षेत्र के थाना क्षेत्र, लाइनर नं 17 व इंद्रानगर ठोकर का दौरा कर प्रशासन से कर्फ्यू हटाने की मांग की।

वनभूलपुरा क्षेत्र में ज्यादातर आबादी मेहनत मजदूरी करती है। कर्फ्यू के कारण उनका रोजगार पूर्णता ठप हो गया है ज्यादातर आबादी के पास राशन, सब्जी, ईंधन आदि खरीदने के पैसे भी नहीं बचे हैं। जनता को बाजार दर पर सब्जियां और राशन आदि उपलब्ध कराया जा रहा था।

कुछ महिलाओं ने बताया कि सिटी मजिस्ट्रेट रिचा सिंह ने 10-15 महिलाओं को निःशुल्क राशन उपलब्ध कराया है। प्रशासन का यह प्रयास बेहद सीमित है अतःहमारी मांग है कि जब तक कर्फ्यू जारी है। कर्फ्यूग्रस्त क्षेत्र में सभी लोगों को निशुल्क पका हुआ भोजन/राशन उपलब्ध कराया जाए।

आठ फरवरी के बाद से क्षेत्र में शांति है। कोई नई घटना नहीं हुई है अतः दिन के समय का कर्फ्यू हटाया जा सकता है।

इंदिरा नगर ठोकर के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में आसमा ने बताया कि उसकी पुत्री को रात में उल्टियां हो गई थीं, उसने रात्रि 2 बजे एंबुलेंस की मांग की तो एंबुलेंस 2 घंटे बाद सुबह 4 बजे पहुंची।

उक्त स्वास्थ्य केंद्र दिन में 2 बजे बंद कर दिया जाता है, इसे 24 घंटे के लिए खोला जाना चाहिए तथा इसमें चिकित्सकों एवं पैरामेडिकल स्टाफ व चिकित्सीय सेवाओं की उपलब्धता को बढ़ाया जाए।

गफूर बस्ती में पानी की लाइन टूटी हुई होने के कारण वहां पर पानी की किल्लत है। प्रशासन ने भरोसा दिलाया है कि जल्द ही लाइन दुरुस्त कर पानी की आपूर्ति सुचारू की जाएगी।

वनभूलपुरा थाने के पास नफीसा ने रोते हुए बताया कि 5 दिन पहले उसके छप्पर से पुलिस उसके पति को उठाकर ले गई थी उसका आज तक कोई भी पता नहीं है। देश के कानून में दर्ज है कि गिरफ्तार व्यक्ति को 24 घंटे के भीतर न्यायालय में पेश किया जाएगा तथा उसकी गिरफ्तारी व उस पर लगे हुए मुकदमे की सूचना तत्काल परिवार को दी जाएगी। हमारी प्रशासन से मांग है कि इस कानून का अनुपालन सुनिश्चित किया जाए।

बस्ती में बहुत सारे लोग आने- जाने हेतु कर्फ्यू पास के लिए बहुत ज्यादा परेशान है इसके लिए एक डेस्क बनाकर लोगों को तत्काल पास उपलब्ध कराए जाएं।

एसडीएम परितोष वर्मा व नगर मजिस्ट्रेट, एपी बाजपेई व जिलाकारी वंदना का आभार व्यक्त करते हुए सामाजिक कार्यकर्ताओं ने कहा कि वनभूलपुरा क्षेत्र के बहुत छोटे क्षेत्र का ही हम लोग भ्रमण कर पाए हैं। हम उम्मीद करते हैं कि प्रशासन संवेदनशीलता के साथ कर्फ्यूग्रस्त क्षेत्र में निवास कर रही जनता की समस्याओं का समाधान करेगा तथा शेष बचे हुए कर्फ्यूग्रस्त क्षेत्र में भी सामाजिक कार्यकर्ताओं को जाने की अनुमति देगा।

प्रतिनिधि मंडल में समाजवादी लोकमंच के मुनीष कुमार, उत्तराखंड परिवर्तन पार्टी के प्रभात ध्यानी, एक्टू के के बोरा, सर्वोदय मंडल के इस्लाम हुसैन, प्रगतिशील महिला एकता केंद्र रजनी जोशी, महिला मंच की बसंती पाठक, महिला एकता मंच की उषा पटवाल, भाकपा माले के नेता कैलाश पांडे, प्रदीप पांडे, संजय रावत, उमेश तिवारी, परिवर्तनकामी छात्र संगठन के चंदन , क्रालोस के मोहन मटियाली, इंकलाबी मजदूर केंद्र के खेमानंद जोशी आदि उपस्थित थे।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,912FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles