कांस्टेबल गया जेल

0
415

04_05_2015-4utkp4a-c-3उत्तरकाशी : होटल में संदिग्ध हालत में युवती की मौत के मामले में सोमवार को भी जमकर हंगामा हुआ। रविवार को दोबारा पोस्टमार्टम से भी मृतका के परिजन और उनका साथ दे रहे छात्र संतुष्ट नहीं हुए। जिले से बाहर तीसरा पोस्टमार्टम कराने की मांग करते हुए परिजनों ने शव को उठाने से इंकार कर दिया। इस दौरान परिजनों व छात्रों की पुलिस, अस्पताल प्रशासन व नगर पालिका अध्यक्ष से कई बार तीखी नोकझोंक हुई। दोपहर बाद लंबी बातचीत व आरोपी के खिलाफ ठोस कार्रवाई का आश्वासन मिलने पर परिजन शव लेने पर राजी हुए। वहीं आरोपी कांस्टेबिल को सोमवार को कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया गया है।
शुक्रवार की शाम भटवाड़ी रोड स्थित होटल नैनकरन में धरासू थाने में तैनात कांस्टेबल हुकुम सिंह के साथ ठहरी युवती की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। परिजनों ने कांस्टेबल पर हत्या का आरोप लगाते हुए थाना कोतवाली में तहरीर दर्ज कराई थी। जबकि पुलिस पूछताछ में आरोपी कांस्टेबिल ने इसे आत्महत्या बताया था। मृतका की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में लटक कर मौत होने की बात साबित होने पर परिजनों ने बीते रविवार को अस्पताल और थाना कोतवाली में जमकर हंगामा किया। विभिन्न छात्र संगठनों के समर्थन से यह मामला और गरमा गया। इस स्थिति को देखते हुए एसडीएम के हस्तक्षेप के बाद दोबारा शव को पोस्टमार्टम कराया गया। लेकिन सोमवार को आई दूसरी पोस्टमार्टम रिपोर्ट में कोई बदलाव नहीं हुआ था। इस पर परिजनों व छात्रों ने आपत्ति जताते हुए शव उठाने से इंकार कर दिया। उनका आरोप था कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में जानबूझकर मौत का कारण लटकने से गर्दन पर दबाव पड़ना बताया जा रहा है। जबकि इस मामले में हत्या का मामला साफ तौर पर नजर आ रहा है। उन्होंने तीसरी बार जिले से बाहर पोस्टमार्टम करवाने की मांग कर डाली। इस पर नगर पालिका अध्यक्ष जयेंद्री राणा व एसपी जगतराम जोशी अस्पताल परिसर में मृतका के परिजनों को समझाने पहुंचे। लेकिन परिजन व छात्र तीसरे पोस्टमार्टम की मांग पर अड़े रहे। इस दौरान काफी नोकझोंक के साथ ही पुलिस व अस्पताल के खिलाफ नारेबाजी के कारण माहौल काफी तनावपूर्ण हो गया। अस्पताल में पुलिस बल बुलाना पड़ा। दोपहर बाद एसपी, एसडीएम व नगर पालिका अध्यक्ष के साथ हुई बातचीत में परिजनों को इस मामले में ठोस कार्रवाई का आश्वासन दिया गया। तब जाकर परिजनों ने अंतिम संस्कार की तैयारी शुरू की। दूसरी ओर, एसपी जगतराम जोशी ने बताया कि आरोपी पुलिसकर्मी को कोर्ट में पेश करने के बाद जेल भेज दिया गया है।
अंतिम संस्कार में छात्र भी रहे मौजूद
मृतका का सोमवार को केदारघाट पर अंतिम संस्कार कर दिया गया, जिसमें नगर के कई लोग शामिल हुए। सभी ने इस मामले में अपनी संवेदनाएं जताई। एसपी जगतराम जोशी, सीओ पीसी पंत भी मौजूद रहे। जबकि अस्पताल से केदारघाट तक अंतिम संस्कार में बड़ी संख्या में छात्र परिजनों के साथ मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here