फ्लिपकार्ट दे रहा है करोड़ों में सैलरी, क्या करना चाहेंगे नौकरी?

0
143

flipkart-5527d3c552325_672ई-मार्केट की दिग्गज कंपनी अमेजन को टक्कर देने के लिए फ्लिपकार्ट ने नई योजना बनाई है। फ्लिपकार्ट अपने इंजीनियरों और रणनीतिकारों को गूगल और मैकिंसे की तर्ज पर प्रशिक्षण दे रहा है। वह न सिर्फ उनको तैयार कर रहा है बल्कि वह उनको लाखों डॉलर की सैलरी भी ऑफर कर रहा है।

फ्लिपकार्ट ने हाल ही में कुछ लोगों को नौकरी दी है। इनमें से एक पुनीत जैन हैं। उन्होंने गूगल से आकर फ्लिपकार्ट में बतौर चीफ प्रोडक्ट ऑफिसर ज्वाइन किया है। वहीं दूसरे शख्स का नाम पीयूष रंजन है जिन्होंने बैंगलोर की एक कंपनी टाइटन से आकर यहां पर बतौर इंजीनियरिंग हैड ज्वाइन किया है। इन दोनों को 6.2 करोड़ का सालाना पैकेज ऑफर किया गया है।

वहीं कपनी ने जिस तीसरे शख्स जो नौकरी दी है उसका नाम साईकिरण कृष्णामूर्ति है। कृष्णमूर्ति फ्लिपकार्ट ज्वाइन करने से पहले ग्लोबल कंसल्टिंग फर्म मैकिंजे एंड कंपनी में काम करते थे। उन्होंने फ्लिपकार्ट में बतौर चीफ आपरेटिंग ऑफिसर के पद पर ज्वाइन किया है। इनको भी पुनीत और पीयूष जितना पैकेज ऑफर किया गया है।

जब फ्लिपकार्ट से इतने भारी भरकम वेतन के बारे में पूछताछ की गई तो उन्होंने किसी भी सवाल का जवाब नहीं दिया। वहीं इस बारे में पुनीत, रंजन और कृष्णामूर्ति से भी कोई जानकारी हासिल नहीं हो पाई। अगर इन सभी को मिलने वाले वेतनों की बात सच है तो यह गैर-बोर्ड स्तर के अधिकारियों और इंजीनियरों को मिलने वाला अभी तक का सबसे ज्यादा वेतन है।

हालांकि भारत में कुछ कंपनियां अपने डिवीजन हैड को इतना मेहनताना देती है, लेकिन लाखों डॉलर की सैलरी आमतौर पर सीईओ स्तर के खिलाड़ियों को ही दी जाती है। रंजन और पुनीत को जो भी मेहनताना दिया जा रहा है वो भारत की 146 बिलियन डॉलर की इंफार्मेशन टेक्नोलॉजी इंडस्ट्री के टॉप एक्जीक्यूटिव्स को ही दी जाती है।

उदाहरण के तौर पर विप्रो के चीफ एक्जीक्यूटिव टीके कुरियन को साल 2013-14 के वित्तीय वर्ष के दौरान 1.1 मिलियन डॉलर की सैलरी दी गई। वहीं टीसीएस के चीफ एन चंद्रशेखरन को 3.15 मिलियन डॉलर का टेकहोम पैकेज दिया जाता है।

काग्नीजेंट के सीईओ फ्रांसिस्को डिसूजा को 1.5 मिलियन डॉलर के आसपास टेकहोम सैलरी मिलती है। वहीं इन्फोसिस के विशाल सिक्का को भी 5.08 मिलियन डॉलर की सैलरी दी जाती है। सूत्रों के मुताबिक फ्लिकार्ट इतनी मोटी सैलरी इसलिए दे रही है ताकि कर्मचारियों के हुनर को और निखारा जा सके।

गौरतलब है कि फ्लिपकार्ट ने पिछले साल ही 1.9 बिलियन डॉलर की सकल पूंजी के स्तर को छुआ है। इस स्तर में और वृद्धि की गुंजाइश दिख रही है और कर्मचारियों में तकनीक और नवाचार के क्षेत्र में अमेजन को पछाड़ने का भारी दबाव है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here