पर्यटन नगरी मसूरी अतिक्रमण की चपेट में, बिगड़ी मालरोड की सूरत!

0
227

इन दिनों मसूरी अतिक्रमण की चपेट में है। लगातार बढ़ते अतिक्रमण की वजह से माल रोड का तो स्वरूप ही बदल चुका है।

पहाड़ों की रानी मसूरी बाहर से जितनी खूबसूरत लगती है, शहर के भीतर आते ही भ्रम दूर हो जाता है। शहर अतिक्रमण की चपेट में है। मालरोड कबाड़ी बाजार की तरह लगता है।

लंढौर से लेकर गांधी चौक तक सड़क अतिक्रमणकारियों ने घेर ली है। लोगों ने मालरोड पर ठेली, रेहड़ी लगाकर मालरोड की खूबसूरती को ग्रहण लगा दिया है। लेकिन कोई रोकने वाला नहीं है। पुलिस भी किसी का सत्यापन तक नहीं कर रही है।

पूर्व में मालरोङ से अतिक्रमण हटाने के लिए नैनीताल हाईकोर्ट में एक जनहित याचिका भी दायर हुए थी, लेकिन उसके बाद भी शहर की व्यवस्था में कोई ठोस सुधार नहीं हो पाया है।

स्थानीय सामाजिक कार्यकर्ता प्रदीप भंडारी ने कहा कि पांच साल पहले नैनीताल हाईकोर्ट में अतिक्रमण को लेकर जनहित याचिका दायर की गई थी। लेकिन उसके बाद भी मालरोड से अतिक्रमण नहीं हटा है। वहीं एडवोकेट चक्रधर बलोनी, उमेश नौटियाल ने कहा कि नगर पालिका और स्थानीय प्रशासन मालरोड पर फैली अव्यवस्था को ठीक करने में नाकाम रहा है।

दर्जाधारी मंत्री जोत सिंह गुनसोला ने स्वीकार किया है कि मालरोड सहित शहर में अतिक्रमण बढ़ा है। इसमें सुधार की आवश्यकता है। वेंडर जोन बनाने को लेकर सरकार पर दबाव बना रहे हैं। उधर नगर पालिका अध्यक्ष मनमोहन सिंह मल्ल का कहाना है कि सीएम ने मसूरी में वेंडर जोन बनाने के लिए हामी भरी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here