आरक्षण बिल को राष्ट्रपति की मंजूरी, 1 हफ्ते में लागू हो जाएगा 10% रिजर्वेशन

0
116

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने सामान्य वर्ग के आर्थिक रुप से कमजोर लोगों के लिए लाए गए 10 प्रतिशत आरक्षण बिल को मंजूरी दे दी है. इसके साथ ही सरकारी नौकरियों और शैक्षणिक संस्थानों में दस फीसदी आरक्षण का रास्ता बिल्कुल साफ हो गया है. इस बावत सरकार ने अधिसूचना जारी कर दी है. बताया जा रहा है कि एक हफ्ते के अंदर दस फीसदी आरक्षण का लाभ मिलना शुरू हो जाएगा. सामाजिक न्याय व अधिकारिता मंत्रालय एक हफ्ते के भीतर इस कानून से जुड़े प्रावधानों को अंतिम रूप देगा.

बता दें कि सामान्य वर्ग के आर्थिक रुप से पिछड़े लोगों को नौकरी और शिक्षा में 10 फीसदी आरक्षण देने के फैसले पर नरेंद्र मोदी कैबिनेट ने 7 जनवरी को मुहर लगाई थी. इसी दिन इस फैसले की जानकारी देश को दी गई थी. 8 जनवरी को इसके लिए लोकसभा में संविधान का 124वां संशोधन विधेयक 2019 पेश किया गया. इसी दिन ये बिल लोकसभा में पास हो गया, इस बिल के समर्थन में 323 वोट पड़े जबकि इस बिल के विपक्ष में 3 सदस्यों ने मतदान किया.

9 जनवरी को इस बिल को राज्यसभा में पेश किया गया. इसके लिए राज्यसभा की बैठक को एक दिन के लिए बढ़ाया गया. राज्यसभा में भी इस बिल पर लंबी बहस हुई और उसी दिन इस बिल को सदन से पास कर दिया गया. राज्यसभा में इस बिल के पक्ष में 165 वोट पड़े थे, जबकि 7 सदस्यों ने इस बिल के विरोध में मतदान किया था. दोनों सदनों से बिल पास होने के बाद इसे आखिरी मंजूरी के लिए राष्ट्रपति के पास भेजा गया. अब राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दी इस बिल पर हस्ताक्षर कर दिए हैं. बता दें कि ये आरक्षण इस वक्त एससी, एसटी और ओबीसी समुदाय के लोगों को मिलने वाले 49.5 फीसदी रिजर्वेशन के अलावा होगा.

इसके तहत आरक्षण का लाभ पाने वाले अभ्यर्थी के परिवार की सालाना आय 8 लाख रुपये से ज्यादा नहीं होनी चाहिए. हालांकि संसद में चर्चा के दौरान कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा था कि राज्य सरकारें चाहे तो इस सीमा में बदलाव कर सकती है. कानून मंत्री के मुताबिक राज्य सरकारों के पास इस सीमा में बदलाव का अधिकार है.

इस 10 फीसदी आरक्षण का लाभ उसी परिवार के कैंडिडेट को मिलेगा जिसके पास 5 एकड़ से ज्यादा कृषि योग्य भूमि नहीं हो. इसके अलावा आवेदक या उसके परिवार के पास 1000 स्क्वायर फीट से बड़ा घर नहीं होने चाहिए. इस आरक्षण का लाभ उन्हीं लोगों को मिलेगा जिनके पास निगम की 100 गज से कम अधिसूचित जमीन हो. इसके अलावा निगम की 200 गज से कम अधिसूचित जमीन होने पर भी इस आरक्षण का लाभ कैंडिडेट उठा सकेंगे.

पतंजलि पहुंचे बालकृष्ण, चर्चाओं का बाजार गर्म

आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स ऋषिकेश से आचार्य बाल कृष्ण को शाम 4 बजे छुट्टी दे दी गई। शनिवार शाम को न्यूरोलॉजिस्ट, कार्डियोलॉजिस्ट व क्रिटिकल केयर...

तो यह है बाबा रामदेव के विश्व विख्यात अस्पताल की सच्चाई

पतंजलि योग पीठ के सीओ आचार्य बालकृष्ण अब बिल्कुल स्वस्थ है लेकिन अभी भी उन्हें एम्स के क्रिटिकल केयर यूनिट में चिकित्सकों की निगरानी...

HOUSE DESIGN

[td_block_social_counter custom_title=”STAY CONNECTED” facebook=”tagDiv” twitter=”envato” youtube=”envato”]

MAKE IT MODERN

LATEST REVIEWS

एशियन जूडो चैंपियनशिप के लिए दून की उन्नति शर्मा चयनित

उत्तराखंड से एकमात्र उन्नति शर्मा ने एशियन कैडेट व जूनियर जूडो चैंपियनशिप के लिए भारतीय टीम में जगह बना ली है। राष्ट्रीय चैंपियनशिप में...

PERFORMANCE TRAINING

विंटरलाइन महोत्सव की तैयारियां शुरू

बैठक में डीएम ने दिए दिशा-निर्देश मसूरी में होने वाले विंटरलाइन महोत्सव की तैयारियां को लेकर आज जिलाधिकारी रविनाथ रमन ने बैठक ली। इस दौरान जिलाधिकारी ने...

आज दलबीर सिंह सुहाग संभालेंगे सेना प्रमुख का पद

लेफिटिनेंट जनरल दलबीर सिंह सुहाग आज थलसेना प्रमुख का पद भार ग्रहण करेंगे। सुहाग वर्तमान सेना प्रमुख बिक्रम सिंह की जगह लेंगे। दलबीर सिंह...

उत्तराखंड में देवलसारी खूबसुरत स्थान है घुमने के लिए!

उत्तराखंड अपनी प्राकृतिक खूबसुरती के लिए देश दुनिया में प्रसिद्ध हैं, लेकिन उत्तराखंड मे आज भी कई ऐसे क्षेत्र हैं जो अपनी विकास की...

चरस के जाल में लड़कियों को फंसाती है ये ‘चाची’

देहरादून। राजधानी देहरादून में लड़कियों को नशे की गर्त में धकेलने वाली म‌हिला मेहराज को देहरादून पुलिस ने गिरफ्तार किया है। बरेली से पहुंचती है...

सार्वजनिक की नेताजी से जुड़ी 64 फाइलें

पश्चिम बंगाल सरकार ने आज नेताजी सुभाष चंद्र बोस से जुड़ी वे 64 फाइलें सार्वजनिक कर दीं हैं, जो उनके रहस्यमय ढंग से लापता...

HOLIDAY RECIPES

खनन का खेल, अपनों पे सितम और गैरों पे करम

चहेतों को लाभ पहुचाने के लिए नियमों को ताक पर रखते खनन अधिकारी नयारनदी के खनन लौट जनपद से बाहर के व्यक्तियों को देने...

WRC RACING

HEALTH & FITNESS

BUSINESS