उत्तराखंड : कई जिलों में भारी बारिश, देहरादून के सभी स्कूल बंद

0
10

आज सुबह से ही राजधानी देहरादून में मौसम खराब रहा। घने बादल छाए रहे। रुक-रुक कर हल्की बूंदाबांदी होती रही। लेकिन सुबह 10 बजे बाद अचानक तेज बौछारें पड़ने लगीं। जिससे जल भराव की स्थिति पैदा हो गई। वहीं राज्य के अन्य इलाकों में भी बादल छाए हुए हैं। बता दें कि राजधानी समेत प्रदेश के सात जिलों में अगले 24 घंटों के दौरान बहुत भारी बारिश हो सकती है। इस पर मौसम विभाग ने ऑरेंज अलर्ट जारी कर दिया है। भारी बारिश की चेतावनी को देखते हुए आज देहरादून जिले के सभी स्कूल बंद किए गए हैं। जिलाधिकारी के निर्देश पर मुख्य शिक्षा अधिकारी आशारानी पैन्यूली ने इसके आदेश जारी किए। डोईवाला में सुबह 08 बजे से लगातार बारिश हो रही है। जिससे क्षेत्र की नदियों का जलस्तर बढ़ने लगा है।
मौसम केंद्र की ओर से जारी बुलेटिन के अनुसार दून के अलावा नैनीताल, चंपावत, पिथौरागढ़, चमोली, हरिद्वार और पौड़ी में भारी बारिश का अनुमान है। प्रदेश के अन्य इलाकों में भी बारिश की संभावना बनी हुई है। मौसम केंद्र निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि प्रदेश में दो अगस्त तक लगातार बारिश होने की संभावना है। 31 जुलाई से दो अगस्त के दौरान ज्यादातर क्षेत्रों में भारी से बहुत भारी बारिश हो सकती है।

आज तड़के मसूरी देहरादून मार्ग पर आईटीबीपी मुख्य गेट के पास भारी भूस्खलन हो गया है। यहां सड़क पर बड़े बोल्डर गिर गए हैं। जिन्हें जेसीबी के माध्यम से तोड़ने का प्रयास किया जा रहा है। वहीं कल से मसूरी में होने वाले हिमालयन कानक्लेव को लेकर आज से वीवीआईपी मूवमेंट शुरू हो जाएगा। इस कारण प्रशासन और पुलिस सड़क को साफ करने में जुटी हुई है। चंपावत जिले में पांच सड़क मार्ग बंद हैं। बागेश्वर जिले में आठ सड़कें मलबा आने से बंद हो गई। जिन्हें खोलने का काम किया जा रहा है। टिहरी जिले में आठ सड़कें बंद पड़ी हैं। यहां बादल छाए हुए हैं। रुद्रप्रयाग जनपद में केदारनाथ हाईवे सुचारु है। जिले में 15 से ज्यादा संपर्क मोटरमार्ग अवरुद्ध चल रहे हैं।